Google क्या है | Google को कब और किसने बनाया?

आप इस पोस्ट को पढ़ रहे है और आपको इस पोस्ट तक पहुंचाने वाला कौन गूगल बाबा, दुनिया में ऐसा कोई ऐसा इंटरनेट यूजर नहीं होगा जो गूगल यूज ना करता हो। लेकिन क्या आपको इसके बारे में डिटेल से मालूम है यदि नहीं तो यह पोस्ट आपके लिए है इस पोस्ट को पूरा पढ़ लीजिए और आपको सारी जानकारी जैसे के गूगल क्या है, गूगल को किसने बनाया, गूगल किस देश की कंपनी है, गूगल का मालिक कौन है और बहुत सारे डिटेल्स यह पोस्ट थोड़ा लम्बा है जिसको मैंने पूरे रिसर्च करके लिखा है तो आप थोड़ा धैर्य रखने गूगल के पूरी जीवनी के बारे में पढ़िए

मुझे अच्छी तरह याद है की जब मेरी 10th क्लास का रिजल्ट आया था तो हम कागज पर वेबसाइट का URL लिखकर लेते थे की भूल न जाये। क्योकि उस टाइम पर उतने वेबसाइट और गूगल उतना एडवांस नहीं हुआ लेकिन अब पूरी दुनिया का इनफार्मेशन आपको आपके मोबाइल पर गूगल से मिल जाता है।

Contents hide

Google क्या है | What is Google in Hindi

Google एक मल्टीनेशनल अमेरिकन कंपनी है जिसको दुनिया का No.1 सर्च इंजन भी कहा जाता है जिसके डेटाबेस में infinite इनफार्मेशन स्टोर है, हम जब भी कुछ गूगल पर कुछ सर्च करते है तो Googlebot (web crawler) सॉफ्टवेयर के मदद से लिस्टेड इंडेक्स में से सबसे सटीक और नवीनतम जानकारी को सबसे पहले पेज में दिखा देता है।

गूगल एक सर्च इंजन होने के अलावा बहुत सारे प्रोडक्ट लांच कर रखा है जैसेकि ऑनलाइन एडवरटाइजिंग, Internet-related सर्विस, क्लाउड कंप्यूटिंग, सॉफ्टवेयर, गूगलपे, जीमेल जैसे बहुत सारे प्रोडक्ट मार्किट में लांच कर रखा है।

गूगल पर हम बोल और लिखकर सर्च कर सकते है और परिणाम के कई रूप Images, Video, News, Map, Book के फॉर्मेट में मिलता है।

यह भी जाने: दुनिया के 70% परसेंट ऑनलाइन सर्च गूगल पर ही किये जाते है

गूगल के बारे में Quick Info: Google Company Profile in Hindi

  • इंडस्ट्री: इंटरनेट कंप्यूटर सॉफ्टवेयर
  • फाउंडर: Larry Page & Sergey Brin
  • फेमस फॉर: सर्च इंजन
  • फॉउण्डेड: 4 सितम्बर 1998 मेनलो पार्क कैलिफ़ोर्निया यूनाइटेड स्टेट्स
  • इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (NASDAQ): 19 अगस्त 2004 (टिकर नाम: GOOGL)
  • कंपनी टाइप: मल्टीनेशनल
  • विस्तार: दुनियाभर Worldwide
  • पैरेंट Company: Alphabet Inc.
  • सीईओ: सुन्दर पिचाई (2 अक्टूबर 2015)
  • नंबर ऑफ़ एम्प्लोयी: 135,301 (2020)
  • हेडक्वार्टर: गूगलप्लेक्स माउंटेन व्यू , कैलिफ़ोर्निया, यूनाइटेड स्टेट्स (US)

Google का टैगलाइन क्या है?

गूगल भी हर कंपनी की तरह हर एक साल एक नया Resolution लेता है, गूगल का नारा हमेशा inspirational एंड motivational होता है । गूगल का slogan है।

  • Don’t be evil
  • Do the right thing
  • Organize the World’s Information

Google Company का मिशन | What is Google Mission in Hindi

गूगल कंपनी का मिशन हिंदी और इंग्लिश में:

हमारा मिशन दुनिया जानकारी को व्यवस्थित करना है और इसे सब दिशाओ में सुलभ और उपयोगी बनाना है।

Our mission is to organize the world’s information and make it universally accessible and useful.

Google का नाम गूगल कैसे पड़ा?

क्या जानते है गूगल का नाम गूगल कैसे पड़ा अगर नहीं तो आइये हम आपको बताते है। सबसे पहले गूगल का नाम “बैकरब” रखा था, क्योंकि यह सर्च इंजन पिछली कड़ियाँ (backlinks) के आधार पर किसी साइट की वरीयता तय करता था। बाद में गूगल का नाम गोगोल (GOOGOL) रखा गया था और बाद में इसे गूगल कर दिया गया। गोगोल एक मैथमेटिकल टर्म है जिसका मतलब होता है 1 के पीछे 100 जीरो (1 Googol = 1.0 × 10100 ) , जब कोई गूगल पर कुछ सर्च करता है तो गूगल उस सूचना को एक के बाद 100 जीरो तक की संख्या को इतने ही वेब पेजों में सर्च कर सकता है और आज गूगल अपने इस काम को बखूबी करता है।

गूगल का इतिहास | History of Google in Hindi

गैरेज से Googleplex तक (Google history in hindi)

Google ke malik ka photo
Image Source: https://about.google/our-story/

गूगल का जन्म कब और कैसे हुआ उसकी पूरी हिस्ट्री के बारे में बात करेंगे बस आपको थोड़ा धैर्य रख के पोस्ट पढ़ना पड़ेगा क्योकि पोस्ट थोड़ा लम्बा होने वाला है।

लैरी ने सोचा सेर्गी घमंडी इंसान है और सेर्गी ने सोचा लैरी घिनौना इंसान है दोनों कॉलेज के टाइम में एक दूसरे को पसंद नहीं करने के बावजूद एक साथ एक प्रोजेक्ट पर काम करते करते कुछ बड़ा कर दिखाया। गूगल की पूरी हिस्ट्री 1995-2001 तक

1995 सिलिकॉन वैली Stanford University:
  • सिलिकॉन वैली: स्टोरी स्टार्ट होती है 1995 से जब लैरी स्नातक करने के लिए स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी आये थे और सर्गे ब्रिन जो की वहां पर पहले से ही पढाई कर रहे थे उनको लैरी पेज को यूनिवर्सिटी दिखने का काम सौपा गया था।
1996 (BACKRUB)
  • 1996 में जब दोनों ने एक रिसर्च प्रोजेक्ट पर काम करके Backrub नाम का एक सर्च इंजन बनाया जो अलग अलग वेबसाइट का महत्व रैंकिंग बताता था। उस वक्त उनका रैंक करने का तरीका था कि यदि कोई यूजर कोई शब्द सर्च करता है और जितनी बार वह शब्द वेबपेज में होगा उसकी रैंकिंग उतनी हाई होगी।
1997 गोगोल & गूगल डोमेन रजिस्ट्रेशन
  • 1997 गोगोल: बैकरब का नाम बदलकर गोगोल किया गया इसके पीछे का राज यह है की googol का मतलब है 1 के पीछे 100 जीरो और बाद में एक छोटी स्पेलिंग मिस्टेक से इसका नाम गूगल हो गया और ऐसे ही नाम पड़ गया गूगल। लैरी और सर्गे के Google बनाने के मकसद—”दुनिया भर की जानकारी को समेट कर सभी के लिए सुलभ और उपयोगी बनाना”—को भी दर्शाता है।
  • 1997 गूगल डोमेन रजिस्ट्रेशन: 15 सितम्बर 1997 को डोमेन Google.com का रजिस्ट्रेशन हुआ। (Source: गूगल के अनुसार) और बैकरब से नए डोमेन गूगल पर पोर्टिंग का काम चालू हुआ।
1998 सिलिकॉन वैली इन्वेस्टर्स, गेराज से गूगलप्लेक्स & Doodle Homepage
  • 1998 सिलिकॉन वैली इन्वेस्टर्स: Sun Company के सहसंस्थापक (co-founder) Andy Bechtolsheim ने लैरी और सर्गे को 100,000 डॉलर का चेक सौंपा और इसी तरह गूगल , Google Inc. बन गया।
  • 1998 गेराज से गूगलप्लेक्स तक: Susan Wojcicki (मेनलो पार्क, कैलिफ़ोर्निया) ने अपने गेराज को गूगल को $1700 पर रेंट पर दिया था । भारी भरकम कंप्यूटर, टेबल और कुछ नीली कलर की कालीन के साथ स्टार्ट हुआ था गूगल और चीजों को रंगीन रखने की परम्परा आज तक चलती आ रही है।
  • 1998 Doodle Homepage: गूगल का फर्स्ट होमपेज Doodle था लेकिन गूगल अब हर साल Doogle बदलता है। टीम ने अभी तक 4000 से ज्यादा डूडल चेंज कर दिए है, आपलोग सोच रहे होंगे Doogle क्या है तो आइये निचे में आपको समझाता हूँ।
  • 1998 फंडिंग मनी: गूगल को उस टाइम के 3 बड़े इन्वेस्टर्स Jeff Bezos (Amazon.com), David  Cheriton (Stanford University professor), और Ram Shriram (American Billionaire Businessman) और उसके साथ साथ कुछ फ्रेंड और फॅमिली सपोर्ट से 1 मिलियन डॉलर हो चूका था जिससे कि अब गूगल को मेनलो पार्क में खोला जा सकता था।

Doodle क्या है: जैसे की हम लोग देखते है कोई भी फेस्टिवल, बर्थडे या कोई यादगार दिन रहता है तो गूगल अपने लोगो में बदलाव करता रहता है उसको ही डूडल इमेजेस कहा जाता है। कुछ डूडल के उदाहरण इमेजेस निचे दिखा रहा हूँ।

Doodle images kya hai
Example of Doodle, Source: Google.com

Very interesting & Motivational: Susan Wojcicki ने अपने गेराज को गूगल को $1700 पर रेंट पर दिया था और वो गूगल की 16th एम्प्लॉई और यूट्यूब की सीईओ (2014) बनी।

1999 More Funding
  • 1999 मोर फंडिंग: लगभग 7 जून 1999 को $25 मिलियन डॉलर अराउंड क्लीनर Perkins और Sequoia Capital मिला और ऐसे ही गूगल की ग्रोथ दिन पे दिन बढ़ती चली गयी। और गूगल पालो आल्टो जगह पर अपना ऑफिस बना लिया जहा पर पहले से ही बहुत सारी स्टार्टअप कंपनिआ थी।
2000 Google Ads
  • 2000 ऑनलाइन विज्ञापन: 23 अक्टूबर 2000 को गूगल ने Google Ads वेबसाइट बनाके विज्ञापन की दुनिया में भी पाँव रख दिया। 2000 में गूगल एक डिफ़ॉल्ट सर्च इंजन बन चूका था Yahoo के लिए जो की Yahoo उस समय का बहुत पॉपुलर वेबसाइट था। गूगल ने अपने होमपेज पैर तक़रीबन 10 और इंटरनेशनल लैंग्वेज को सपोर्ट करना चालू कर दिया था।
2001 Hiring of Eric Schmidt (CEO), गूगल न्यूज़ लांच
  • 2001 Eric Schmidt: August 2021 में Eric Schmidt को गूगल का फर्स्ट सीईओ अप्पोइंट किया गया जोकि काफी अनुभवी लीडर थे। Eric Schmidt जोकि पहले Novell (एक सॉफ्टवेयर कंपनी) और Sun Microsystem के वाईस प्रेसिडेंट रह चुके थे। Larry Page को प्रोडक्ट्स और Sergey Brin को टेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट का प्रेसिडेंट बना दिया गया।
  • 2002 गूगल न्यूज़: सितम्बर 2000 में कृष्णा भरत ने गूगल न्यूज़ का बीटा वर्जन रिलीज़ कर दिया जोकि अब के समय में तकरीबन 35 भाषाओं में उपलब्ध है।
2003 गूगलप्लेक्स ऑफीस, Acquisition of Blogger.com
  • 2003 गूगलप्लेक्स ऑफीस: 2003 में अपने 2 ऑफिस को काम पड़ता देख गूगल ने अपनी तीसरी ऑफिस माउंटेन व्यू, कैलिफ़ोर्निया में ले लिया जिसको आज गूगलप्लेक्स के नाम से जाना जाता है और तकरीबन 3 साल बाद $319 मिलियन डॉलर में ऑफिस को SGI से खरीद लिया गया।
  • 2003 Blogger.com: फेब्रुअरी 2003 में गूगल ने Blogger.com तो Pyra Labs से खरीद लिया।
Google head office ka photo
Image Credit: Shutterstock, Googleplex Office Building
2004 Web Mail Service Gmail, IPO Offering & Google Book
  • 2004 वेब मेल सर्विस Gmail: 1 अप्रैल 2004 अप्रैल फूल डे वाले दिन गूगल ने जीमेल को लांच कर दिया और साथ में कुछ डाटा स्टोर करने का स्पेस भी दिया गया था यूजर को जिससे की बहुत ही जयादा फेमस हो गया।
  • 2004 IPO offering: लगभग 4-5 साल बाद, गूगल के अपना आईपीओ 19 अगस्त 2004 को अपना आईपीओ लांच कर दिया। मजेदार बात यह है की जितने भी शेयर बेचे गए वो सब एक सिस्टम जोकि Morgan Stanley और Credit Suisse के द्वारा बनाये गए थे एक ऑनलाइन ऑक्शन फॉर्मेट में बेचे गए थे। और तीनो लोग (Larry, Sergey & Eric) ने यह तय किया की तीनो लोग 2024 तक एक साथ मिलकर काम करेंगे। गूगल ने 19,605,052 शेयर को $85 पर शेयर के हिसाब से बेचे जिसका टोटल वैल्यू करीब $27 बिलियन आया था।
  • 2004 गूगल बुक: गूगल बुक को अक्टूबर 2004 में लॉच किया गया जिसको की पहले गूगल प्रिंट के नाम से जाना जाता था।
2005 Introduction of Android, Google Mobile Web, Google Map &
Google Talk
  • Android: गूगल ने Android Inc. को जुलाई 2005 में तक़रीबन $50 मिलियन डॉलर के खरीद लिया और साथ ही साथ Andy Rubin, Chris White, Nick Sears और Rich Miner जो की असल में Android Inc. के फाउंडर (2003) थें वो लोग ने भी गूगल ज्वाइन कर लिया।
  • गूगल मोबाइल वेब: बढ़ती हुई गूगल सर्च को देख गूगल के मोबाइल वर्जन का सर्च इंजन भी डेवेलोप कर डाला।
  • गूगल मैप: गूगल मैप को C++ प्रोग्रामिंग लैंग्वेज पर 2 Danish brother लार्स और जेन ने डेवेलोप किया था। अक्टूबर 2004 के आसपास गूगल ने इसको भी खरीद के और अच्छे तरीके से डेवेलोप करके गूगल मैप नाम से 8 February 2005 को लॉच कर दिया।
  • गूगल टॉक: 24 अगस्त 2005 को गूगल टॉक की इनिशियल लॉन्चिंग हो गयी
Android, Gtalk, Google Map logo
Source: Google images
2006 Acquired YouTube & Google launch in China
Google acquired YouTube
  • गूगल चीन में : गूगल ने चीन में भी अपना Censored version का सर्च इंजन (Google.cn) Chinese firewall के हिसाब से लांच किया और तकरीबन 4 साल बाद गूगल ने अपना सर्च इंजन चाइना से हटाकर (Google.co.hk) हांगकांग में कर दिया। चाइना की गवर्नमेंट गूगल से यूजर्स की जानकारिया निकलना चाहता था जोकि एक प्राइवेसी इशू हो सकता है उसके लिए गूगल ने चाइना से अपने को हटा दिया।
  • 2006 यूट्यूब का अधिग्रहण: 14 नवंबर 2006 में तक़रीबन $1.65 अरब अमेरिकन डॉलर में गूगल ने यूट्यूब को खरीद लिया।
2007 Google Ads business growth and Street view
  • Acquired डबल क्लिक कंपनी: गूगल ने डबल क्लिक नाम के कंपनी को $3.1 बिलियन में खरीद लिया जोकि एक ऑनलाइन एडवेर्टीजमेंट कंपनी थी। गूगल ने उसके बाद अपना Advertisement का business बहुत बड़ा कर लिया।
  • Street View: 25 मई 2007 में गूगल ने अपने मैप और नेविगेशन टूल्स को और अच्छा बनाने के लिए Hulking कैमरा को फ्लीट कार के ऊपर लगा कर स्ट्रीट का पैनोरमा व्यू लेने लगा जिसको Google Street View के नाम से भी जाना जाता है। बाद में धीरे धीरे बहुत सारे अलग अलग उपकरण बनाये गूगल मैप स्टेट को मजबूत बनाने के लिए।
Google Street view device
Google Street View equipment, Source: Google images
2008 Google Chrome Launched
  • Google Chrome: तक़रीबन २ सितम्बर २००८ को गूगल ने विंडोज प्लेटफार्म के लिए गूगल क्रोम ब्राउज़र को 43 सपोर्टेड लैंग्वेजेज में लॉच किया बाद में इसको और अच्छे से डेवेलोप करके मैक लिनक्स और इतर प्लेटफार्म सपोर्टेड बनाकर 47 लॉन्गजेस में कन्वर्ट कर दिया।
2009 Most Popular Person
  • नवंबर 2009 में Forbes मैगज़ीन ने Sergey Bin और Larry Page को 5th मोस्ट पावरफुल people का अवार्ड दिया।
2010 Launched first phone Nexus and Fiber internet service
  • Nexus One: गूगल ने 5 जनुअरी 2010 को Nexus One मोबाइल लांच किया यह फ़ोन Google, HTC, T-Mobile के पार्टनरशिप में बना था।
  • Fiber Service: 10 February 2010 को गूगल ने उसे Kansas सिटी में फाइबर सर्विस भी चालू कर दिया।
Google Fiber
Source: Google Images (Nexus One & Fiber Services launched in 2010)
2011 – New CEO (Larry Page), Mobile Nirvana & Startup of Google Plus Services
  • New CEO (Larry Page): 20 जनुअरी 2011 को Schmidt ने सीईओ पोस्ट को छोड़कर एग्जीक्यूटिव चेयरमैन बन गए और Larry Page अप्रैल 2011 में गूगल के नए सीईओ बन गए। Schmidt ने मजाक मजाक में ट्विटर पर ट्वीट किया था “Day-to-day adult supervision no longer needed!”
  • Mobile Nirvana: एंडॉयड सिस्टम बहुत ही फेमस हो गया और बहुत सारे हैंडसेट बनाने वाले कंपनी ने गूगल से साझा कर लिया।
  • गूगल प्लस: 28 जून 2011 को गूगल प्लस जोकि फोटोज शेयर्स करने के काम आता है।
2012 Google Now & Google Voice Search Feature

Google Now: 9 जुलाई 2012 को एंड्राइड 4.1 (Jelly Beans) अपडेट आया और गूगल ने Google Now और Google Voice सर्च को स्टार्ट किया, गैलेक्सी नेक्सस स्मार्टफोन फर्स्ट स्मार्टफोन था जो इस फीचर्स को सपोर्ट करता था। गूगल नाउ ठीक गूगल असिस्टेंट के तरह ही काम करता है।

2013 Google Chromecast, Google Glass
  • Google Glass (Project Glass): February 2013 में गूगल ने Google Glass नाम का चश्मा मार्किट में लॉच किया जिसके सहायता से आप अपने मोबाइल को ऑपरेट कर सकते है, 5 मेगापिक्सेल का कैमरा भी फिट था उस चश्मे में जिससे आप आसानी से फोटो ले सकते है।
  • Google Chromecast: 24 जुलाई 2013 को गूगल ने एक डिवाइस बनाया जो आपके नार्मल TV को स्मार्ट टीवी में कन्वर्ट कर देता था, आपके मोबाइल का मिरर आपके TV में दिखता था, यदि आप यूटुब अपने मोबाइल में देख रहे है और वही आपको टीवी में देखना है तो Chromecast के मदद से देख सकते है।
Google glass kya hai
Image Credit: Google images, Wikipedia (Google Glass, Google Chromecast device)
2014 Google Nest (Google Home)
  • Google Nest: गूगल ने गूगल नेस्ट नाम का एक डिवाइस लांच किया जो एक स्मार्ट डिवाइस स्मोक डिटेक्टर स्मार्ट डिस्प्ले स्मार्ट डोरबेल डिटेक्टर था। बहुत सारे होम स्मार्ट डिवाइस को वौइस् से कण्ट्रोल किया जा सकता है। यह असल में नेस्ट लैब द्वारा बनाया हुआ डिवाइस तहत जिसको गूगल ने जनुअरी 2014 में उस$3.2 बिलियन में खरीद लिया। आपने यह भी जान लिया की गूगल नेस्ट क्या है
2015 Google new Parent (Alphabet Inc.), New CEO Sundar Pichai and New Logo Design of Google
  • Sundar Pichai: गूगल ने 2 अक्टूबर 2015 को अपने लिए एक पैरेंट कंपनी चुना जिसका नाम है अल्फाबेट और पेज उसके सीईओ बने बाद में 24 अक्टूबर 2015 को Sundar Pichai (Pichai Sundarajan) को गूगल का सीईओ बना दिया गया।
  • Google’s new look: गूगल ने अपने लोगो को थोड़ा मेकओवर करके same कलर को यूज करते हुआ अपना नया लोगो बनाया जोकि स्मॉलर स्क्रीन (Mobile devices, Watch) पर भी अच्छे से दिख जाये।
2016 Google Home & Google Pixel ‘First phone made by Google’
  • गूगल होम: गूगल ने अपने पुराने डिवाइस को आर्टिफीसियल साइंस की मदद से गूगल होम डिवाइस का निर्माण किया। यह स्पीकर आके वौइस् कण्ट्रोल पर काम करेगा।
  • गूगल पिक्सेल फ़ोन: गूगल ने पिक्सेल नाम से अपना फर्स्ट फ़ोन लॉच किया जिसमे आप Chrome OS या Android OS सपोर्ट के साथ अनलिमिटेड वीडियो और फोटोज गूगल फोटोज पर स्टोर कर सकते है।
  • वायमो कार: आइये जानते है वायमो कार क्या है इन हिंदी : सेल्फ ड्राइविंग कार एक वाहन है जो की एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए बहुत सारे सेंसरो को जैसे की कैमरा रेडार और आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंस आदि पर काम करता है और इसे सॉफ्टवेयर की मदद से चलाया जाता है।
Waymo car kya hai
Image Credit: Google images (Google Home Smart Speaker, Google Phone Pixel, Self driving car Waymo)
2017 Google buys HTC parts
  • गूगल ने अभी तक हार्डवेयर मैन्युफैक्चरिंग में हाथ आजमाने के बाद फाइनली HTC कंपनी को भी $1.1 बिलियन में खरीद लिया।
2018 – 20 इयर्स ऑफ़ गूगल
  • 20 साल गूगल के: गूगल ने अब तक टॉप की करीब $100 बिलियन डॉलर का सेल किया अपनी पूरी 20 इयर्स की इतिहास में और यह कमाई सबसे ज्यादा Google Ads से थी।
2019 Sundar Pichai (New CEO Alphabet)
  • 3 दिसंबर 2019 को Sundar Pichai को Alphabet का भी CEO बना दिया गया।
2020 Iconic Year
  • Google Logo: गूगल ने फिर अपने कंपनी लोगोस में माइनर चेंजेस किया।
  • गूगल मैप: गूगल ने गूगल मैप को कुछ नए फीचर्स के साथ अपडेटेड किया जैसे के आप कोरोना केसेस की लाइव ट्रैकिंग, यदि आप ने कही पर घूम कर आये है और उस जगह की फोटोज या कोई इनफार्मेशन शेयर करना चाहते है तो कर सकते है।
  • Hum-to-search फीचर्स: बहुत ही इंटरेस्टिंग फीचर्स है यह गूगल द्वारा जैसे कभी हमारे दिमाग में गाने की गुनगुनाहट होती लेकिन गाना याद नहीं आता है तो यह Hum-to-search फीचर्स म्यूजिक लवर लोगो के लिए है आप गाने की धुन से गाना सर्च कर पाएंगे। आपको बस अपने मोबाइल पर गूगल वौइस् पर जाके “What is this Song” बोलना है फिर उसके बाद अपनी धुन गाना होगा और मिलता जुलता रिजल्ट आपके सामने आ जायेगा। तो यह हमें Google Hum-to-search फीचर्स इन हिंदी के बारे में जाना।

2021 Google Algorithm updates

  • गूगल नेक्स्ट प्लानिंग है अपने अल्गोरिथम को अपडेट करने की जिसमे की वो यूजर की पेज एक्सपीरियंस को भी समझ पाए।

अभी तक तो हमने गूगल की पूरी इतिहास 1996-2021 तक के बारे में पढ़ा आइये अब चले है कुछ हमेशा पूछे (FAQ) जाने वाले प्रश्न की तरह जिसका जवाब आपको आना बहुत जरुरी है क्यों की ऐसा क्वेश्चन आपसे इंटरव्यू में भी पुछा जा सकता है।

गूगल का फुल फॉर्म क्या है | What is Google Full form in hindi

गूगल का पूरा नाम “Google Organization of Oriented Group Language of Earth” 

G: Global (वैश्विक)

O: Organization (संगठन)

O: Of Oriented (उन्मुखी)

G: Group (समूह)

L: Language Of (भाषा)

E: Earth (पृथ्वी)

गूगल कंपनी का मालिक कौन है | Who is Google owner

गूगल तुम्हारा मालिक कौन है: साल 2004 में Larry और Sergey ne गूगल को पब्लिक कर दिया जिसका मतलब यह की इसके बहुत सारे शेयर होल्डर्स हो गए। गूगल अब सारे फैसले अपने पैरेंट कंपनी Alphabet के हिसाब से करता है। गूगल का असली मालिक देखे तो जितने भी शेयर होल्डर्स है वो सब है लेकिन Larry Page और Sergey Brin जिनके पास 50% के आसपास शेयर है तो इनको गूगल का मालिक कह सकते है।

गूगल का पुराना नाम क्या है | What is Google old name

गूगल का नाम गोगोल (GOOGOL) रखा गया था बाद में इसे गूगल कर दिया गया। गोगोल एक मैथमेटिकल टर्म है जिसका मतलब होता है 1 के पीछे 100 जीरो (1 Googol = 1.0 × 10100 )

गूगल कितनी लैंग्वेज सपोर्ट करता है | How many language Google support

गूगल ट्रांसलेट 109 भाषा समझाता है,

गूगल का सीईओ कौन है 2021 | Who is current Google CEO 2021

Sundar Pichai अभी गूगल और अल्फाबेट दोनों के सीईओ है जो एक इंडियन मूल के नागरिक है, सुन्दर पिचाई  ने गूगल सीईओ का पद ग्रहण 2 अक्टूबर, 2015 को किया। 3 दिसंबर, 2019 को वह अल्फाबेट के सीईओ बन गए। Sundar Pichai एक महंगे सीईओ है जिनकी सैलरी 20 लाख उस डॉलर सालाना है।

गूगल किस देश की कंपनी है | Which country Google belongs

गूगल एक अमेरिकन कंपनी है जिसका हेडक्वार्टर Mountain View , California USA में है

गूगल का इंडिया में हेडक्वार्टर कहाँ पर है | Where is Google Headquarter in India

गूगल का इंडिया में हेडक्वार्टर हैदराबाद में है। वैसे गूगल के और 3 ऑफिस मुंबई, बैंगलोर और गुडगाँव में है।

गूगल कैसे कमाता है | How does Google earn

गूगल के बहुत सारे सर्विसेज फ्री है तो उसको पैसा कहा से आता है: गूगल सबसे जायदा पैसा Online Advertisement के ब्यवसाय से कमाता है। गूगल करीब 85% पैसा गूगल Ads से कमाता है। इसके तीन हिस्से है (Google Ad Mob, Google Ad Words , Google AdSense) यह तीनो बिज़नेस से बहुत पैसा आता है।

गूगल पर एक दिन के कितना सर्च होता है 2021 | How many Google searches per day on average in 2021

तकरीबन 2 ट्रिलियन से ज्यादा का सर्च per day गूगल पर होता है लेकिन लाइव डाटा और कुछ दूसरे सोर्स से मालूम से मालूम चला है की 5.5 बिलियन per day और 63000 सर्च per second होता है।

गूगल कब आया

फॉउण्डेड: 4 सितम्बर 1998 मेनलो पार्क कैलिफ़ोर्निया यूनाइटेड स्टेट्स (US)

गूगल मेरा नाम क्या है

गूगल मेरा नाम क्या है: आप अपना नाम गूगल से गूगल असिस्टेंट की मदद से पूछ सकते है और आपके जीमेल लॉगिन के हिसाब से गूगल आपको आपका नाम बता देगा, है ना काफी इंटरेस्टिंग एप्लीकेशन

Conclusion

हमें पूरी उम्मीद है आप लोगो को यह मेरा पोस्ट गूगल क्या है इन हिंदी और गूगल की पूरी हिस्ट्री के बारे में पढ़ के अच्छा लगा होगा। यह मेरी अभी तक भी सबसे लम्बी पोस्ट थी जो मैंने अपने रीडर्स के लिए पूरी अच्छे तरीके से रिसर्च करके लिखने की कोशिस की है।

हमें पूरा आशा है की आप लोग यह पोस्ट पड़ने के बाद अपना एक कमेंट जरूर छोड़ेंगे जिससे मुझे मालूम चल सके की आप लोगो को मेरी पोस्ट कैसी लगी और आपका सुझाव और आशीर्वाद दोनों हमें चाहिए।

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here